सोंठ के फायदे इसके गुण तथा नुकसान

सूखी अदरक को सोंठ कहा जाता है यह गीली और अदरक को सुखाकर तैयार की जाती है इसके बाद इसका बारीक पाउडर बना लिया जाता है इसकी सुगंध अच्छी और स्वाद तीखा होता है

सोंठ के फायदे इसके गुण तथा नुकसान

इसको स्टोर करना बहुत ही आसान है इसे स्टोर करने से यह 1 साल तक उपयोग किया जा सकता है इसका पाउडर विभिन्न पदार्थों में मिलाया जाता है 0 को दूध में मिलाकर पीने से इम्यूनिटी को बढ़ाया जा सकता है0 मैं आयरन कैल्शियम मैग्नीशियम सोडियम और जिंक के गुण पाए जाते हैं जिस कारण यह गर्म होता है इसलिए इसका सेवन गर्मियों में सीमित मात्रा में करें

सोंंठ के फायदे

आधासीसी सोंठ

सोंठ को पानी के साथ पीसकर लेप करने से आधासीसी की पीड़ा से मुक्ति पाई जा सकती है|

नेत्र रोग

सोंंठ ,नीम के पत्ते पीसकर उनमे थोड़ा सेंधा नमक डालकर उसकी टिकिया बनाकर थोड़ा गर्म करने से नेत्रों पर बांधने से नेत्रों की पीड़ा तथा खुजली और सूजन से छुटकारा पाया जा सकता है|

हृदय रोग

सोंंठ का गुनगुना पानी पीने से हृदय के रोग से पीड़ित मरीजों को काफी लाभ पहुंचता है

हिचक

  • सोंंठ और हरड़ को पानी में पीसकर उसकी लुगदी बनाकर गर्म जल के साथ पीने से हिचकी मिटती है
  • सोंंठ आंवला और पीपल का चूर्ण शहद के साथ चाटने से हिचकी मिटती है
  • सोंंठ के चूर्ण की फाक्की लेकर उसके ऊपर बकरी का गर्म दूध पीने से हिचकी से छुटकारा पाया जा सकता है

नेत्र पीड़ा

सोंठ को पानी में घिसकर उसकी 2-3 बूंदे आंखों पर चिपकाने से नेत्र रोग मिटता है|

उदर रोग

सोंंंठ का काढ़ा बनाकर पीने से उधर तथा जल के रोग मिलते हैं

कमर दर्द

सोंंठ के काढ़े में अरंडी का तेल मिलाकर पीने से कमर के दर्द को दूर किया जाता है|

अन्य भाषाओ में सोंंठ का नाम

संस्कृतशुठि,महौषधि,विश्वा,विश्व भेषज
हिंदी सोंठ,सूंठ
बंगलाशुठ
मराठीसोंठ
गुजरातीसुठ,सोंठ
फ़ारसीजलील खुश्क
इंग्लिशDry Ginger

सोंंठ अदरक की सुखाई हुई गाठो को कहते हैं यह गहरे सफेद रंग की होती है सोंठ दो प्रकार की होती है सतवा सोंठ,पैटी सोंठ |

सोंठ के गुण

सोंंठ आयुर्वेद की एक सबसे प्रसिद्ध और घरेलू औषधि है आयुर्वेद के मत के अनुसार इसमें हजारों गुण हैं जो शरीर के सारे संगठन को सुधारने में मदद करती है और मनुष्य में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है आयुर्वेद के अनुसार आयुर्वेद में बनने वाले हजारों लोगों में इसका उल्लेख किया गया है सोंठ चिकित्सा शास्त्र के अनेक नुस्खों में उपयोग की जाती थी

सोंठ के नुकसान

  • सोंंठ का अधिक सेवन करने से दिल में दर्द मुंह में जलन पेट दर्द आदि हो सकते हैं
    • इसके अलावा ज्यादा लेने से धड़कन एलर्जी की समस्या उत्पन्न हो सकती है
      • गर्मियों में इसका अधिक उपयोग करने से दस्त की समस्या आ सकती है
        • सोंठ का अधिक उपयोग करने से हृदय की समस्या उत्पन्न होती है जो शरीर के लिए बहुत ही गंभीर समस्या है

आपको यह भी जानना चाहिए

  1. हरड़ के फायदे और नुकसान,उपयोग और इसके पेड़ की जानकारी
  2. अमलतास के फायदे इसके पेड़ तथा पत्ते के बारे में जानकारी
  3. रसौत क्या होता है रसौत के फायदे व इसकी जानकारी
  4. कालमेघ के फायदे-Green Chiretta In Hindi

Leave a Comment