जानिए कान दर्द का घरेलू उपचार

कान दर्द का घरेलू उपचार-सर्दियों का मौसम वैसे तो खाने पीने के लिए अतिउत्तम होता है। इस मौसम में जहाँ मूंगफली और हीटर की बहार आती है वही दुर्भाग्य से इस मौसम में कुछ ऐसी संक्रमण वाली बीमारियाँ आती है जो मनुष्य के स्वभाव को चिड़चिड़ा बना देती है।

जानिए कान दर्द का घरेलू उपाय

कान दर्द उनमें से एक ऐसी बीमारी है जो अधिकतर सर्दियों के मौसम में आती है। कान में दर्द होने के कई कारण हो सकते है।

कान का बहना:सूनापन ,पीक आना या फिर किसी अन्य इन्फेक्शन से भी कान में दर्द हो जाता है। आइयें आज कुछ ऐसे घरेलू नुस्खों के बारें में जानतें है जो कान के दर्द से तुरंत छुटकारा दिलाने में मदद करते है।

टी ट्री ऑयल :टी ट्री ऑयल को अगर हम कोई जादुई तेल कहे तो यह गलत ना होगा। पुराने प्राकृतिक औषधीय उपायों में इसके कई लाभ है और कान के दर्द में आश्चर्यजनक रूप से काम करता है। टी ट्री ऑयल की कुछ बुँदे संक्रमण या सर्दी के कारण हो रहे दर्द से राहत देती है। जब आप कान के इलाज के लिए इस तेल का उपयोग करते है तो यह मच्छरों को दूर रखने में मदद करता है। वयस्कों और बच्चों दोनों के कान दर्दॅ के लिए यह काफी लाभदायक है।

लहसुन : यदि आप कान के दर्द से मुक्त होना चाहते है तो आम सर्दी में लहसुन एक चमत्कारिक काम कर सकता है। सर्दी में संक्रमण को रोकने में लहसुन काफी कारगर है क्योकि इसमें एंटीबायोटिक गुण होते हैं इसके अतिरिक्त यह दर्द को दूर करने में भी सक्षम है। लहसुन का एक टुकड़ा क्रश करें और र्म जैतून के तेल के साथ मिश्रण कर कान में लगाएं। लहसुन प्रतिरक्षा भी प्रदान करता है।

सेब का सिरका : सेब साइडर सिरका आम तौर पर एक स्वस्थ शरीर के लिए जाना जाता है लेकिन प्राकृतिक एंटीबायोटिक गुण के कारण रुई पर लगा कर इसे कान दर्दॅ से छुटकारा पाने के लिए किया जा सकता है। कान में रख कर 5 मिनट के लिए छोड़ दें यह आपको दर्द से मुक्ति देगा।

स्टीम तकनीक : स्टीम इनहेलेशन सर्दी के वायरल संक्रमण और छाती जाम होने पर इसे सबसे अच्छे इलाज के रूप में प्रयोग किया जाता है। कान का दर्दॅ के लिए भी आप इस तकनीक का लाभ ले सकते है। आप इस पद्धति का अतरिक्त लाभ लेना चाहते है तो चमकदार त्वचा,कफ को साफ़ करने और वाष्प कण।

सरसों का तेल : कान के दर्दॅ से छुटकारा पाने के लिए सरसों के तेल का उपयोग काफी पुराना नुक्ता है। सरसों के तेल के नियमित प्रयोग से कान की मैल को अच्छी तरह से निपटाया जा सकता है। कान दर्दॅ होने पर सरसों के तेल को गर्म करें और तेल की कुछ बूंदें कुछ मिनटों के लिए अंदर ही रहने दे निश्चित रूप कान दर्द से राहत जरुर मिलेगी।

कुल मिलाकर, बैक्टीरिया, वायरल या फंगल से बचने के लिए उपर दिए गए है इन घरेलू उपायों को प्रयोग कान दर्दॅ से राहत देगा और आपको सर्दियों का आनंद स्वस्थ रहते हुए मिलेगा।

आपको यह भी जानना चाहिए

  1. रसौत क्या होता है रसौत के फायदे व इसकी जानकारी
  2. मुंहासे के लिए सबसे अच्छी क्रीम कौन सी है
  3. पेट दर्द के कारण व लक्षण,टेबलेट और इसका देसी उपचार
  4. मानसिक स्वास्थ्य क्या है इसके लक्षण,प्रकार और घरेलू उपचार
  5. सिनकोना क्या है Cinchona In Hindi

Leave a Comment