आयोडीन युक्त नमक के उपयोग तथा इसके नुकसान

आयोडीन युक्त नमक हमारे शरीर के लिए बहुत ही जरूरी है आयोडीन एक खनिज पदार्थ है जो समुद्र में पाया जाता है वह इसकी थोड़ी मात्रा सामान्य नमक में मिला दी जाती है जिससे वह आयोडीन युक्त नमक बन जाता है

आयोडीन युक्त नमक हमारे शरीर के लिए बहुत ही जरूरी है आयोडीन एक खनिज पदार्थ है जो समुद्र में पाया जाता है वह इसकी थोड़ी मात्रा सामान्य नमक में मिला

आयोडीन युक्त नमक क्यों जरूरी है

  • हमारे शरीर में विकास के लिए आयोडीन की मात्रा अधिक होनी चाहिए
  • आयोडीन हमारे शरीर में तापमान को सही नियंत्रण में रखता है
  • आयोडीन युक्त नमक प्रजनन के लिए बहुत जरूरी है
  • मांसपेशियों और कोशिकाओं को स्वस्थ रखने के लिए आयोडीन युक्त नमक की सलाह दी जाती है
  • हृदय की गति को नियंत्रित करने के लिए आयोडीन नमक बहुत जरूरी है

आयोडीन वास्तव में क्या है

आयोडीन थायराइड ग्रंथि की क्रियाओं के लिए आवश्यक है आयोडीन की कमी से घेंघा रोग होते हैं आयोडीन की कमी से शरीर का विकास रुक जाता है तथा बच्चा बौना रह जाता है आयोडीन समुद्री मछलियों में काफी अधिक मात्रा में पाया जाता है इसकी पूर्ति के लिए आयोडीन युक्त नमक ले|

आयोडीन की कमी के नुकसान

  • आयोडीन की कमी से हमारे शरीर की कार्य क्षमता कम हो जाती है |
  • किसकी कमी से शरीर का वजन बढ़ने लगता है जिससे ठंड भी काफी ज्यादा लगती है |
  • महिलाओं के लिए आयोडीन की कमी खतरनाक सिद्ध हो सकती है इसलिए इसकी कमी को हल्के में ना लें |
  • इसकी कमी से कई खतरनाक बीमारियां हो सकती हैं जैसे घेंघा,मानसिक तनाव,बहरापन,गूंगापन,खड़ा ना हो पाना|

अगर आप आयोडीन नमक की कमी से ग्रस्त हैं तो इसकी कमी को हल्के में ना लें यह आपके लिए बहुत ही जानलेवा सिद्ध हो सकती है आयोडीन नमक की कमी की डॉक्टर के पास तुरंत जांच करवाएं|

आयोडीन की कमी के उपाय

  • हमारा शरीर आयोडीन नहीं बना पाता इसलिए हमें दैनिक आहार में आयोडीन युक्त नमक की जरूरत होती है
  • डब्ल्यूएचओ के अनुसार आयोडीन की कमी को दूर करने के लिए आयोडीन नमक वाले खाद्य पदार्थ खाने चाहिए जैसे मछली अंडे और मांस
  • आपके शरीर को दिन भर में 100 मिलीग्राम आयोडीन की आवश्यकता होती है
  • आप जब भी नमक खरीदते हैं तो आयोडीन नमक ही चुने क्योंकि इससे आपके शरीर में आयोडीन की मात्रा पूरी रहती है

आयोडीन युक्त नमक के उपयोग की सलाह क्यों दी जाती है

आयोडीन नमक के उपयोग की सलाह इसलिए दी जाती है क्योंकि शरीर में वसा,प्रोटीन,कार्बोहाइड्रेट तथा अपाचे को थायराइड नियंत्रण करती है और यह ग्रंथि थायरोक्सिन हार्मोन नियंत्रित करता है और इस ग्रंथि के लिए आयोडीन नमक जरूरी है इसलिए आयोडीन नमक की सलाह दी जाती है|

आपको यह भी जानना चाहिए

  1. सोंठ के फायदे इसके गुण तथा नुकसान
  2. हरड़ के फायदे और नुकसान,उपयोग और इसके पेड़ की जानकारी
  3. अमलतास के फायदे इसके पेड़ तथा पत्ते के बारे में जानकारी
  4. रसौत क्या होता है रसौत के फायदे व इसकी जानकारी
  5. कालमेघ के फायदे-Green Chiretta In Hindi

Leave a Comment